महिलाओं की कला को पहचान दिला रही है अरबन छोकरी

अरबन छोकरी..यह नाम अब एक ब्रांड बनता जा रहा है. इसमें सिर्फ साड़ियां ही नहीं ड्रेस मैटेरियल के साथ ही मॉडन ड्रेस के लिए जाना माना बुटिक बन गया है।

pratibha-talatule

5 साल पहले प्रतिभा टालाटुले ने इसे कला संगम के नाम से आरम्भ किया था। इसका उद्देश्य उन महिलाओं की कला को सामने लाना था जिनमें कला थी और जो आगे काम करना चाहती थीं मगर आर्थिक अभाव के कारण उनका यह सपना अधूरा रह गया था।

urban-chokri-4

 

बाद में इसे अरबन छोकरी नाम दिया गया। इसे महिलाओं की पहचान बनाने के लिए शुरू किया है। प्रतिभा का कहना है कि समाज का सबसे मजबूत स्तम्भ महिलाएं हैं और उन्हें खुद अपनी पहचान बनानी पड़ेगी इसलिए उन्होंने अपने इस बुटिक में हाथों की कारीगरी को प्रमुखता दी है।

urban-chokri-2

कढ़ाई, एप्लिक, फेबरिक पेंटिग के साथ ही रचनात्मकता को प्रमुखता दी है। उन्होंने अपने इस काम में जरूरतमंद महिलाओं का साथ लिया है ताकि वे भी खुद की क्षमता को पहचानकर आर्थिक रूप से स्वाबलम्बी हो सके।

urban-chokri

अरबन छोकरी की शुरुआत में प्रतिभा ने अपने रिश्तेदारों के वैवाहिक कार्यक्रमों के लिए डिजाइनर परिधान तथा सजावट का अन्य सामान बनाकर की। धीरे – धीरे महिलाएं जुड़ीं  और आज 15 महिलाएं जुड़ी हैं। नागपुर के अरबन छोकरी से अब कोलकाता और मध्यप्रदेश की महिलाएं भी जुड़ रही हैं।

(लेखिका वरिष्ठ पत्रकार हैं)

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × one =

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.