रिटायर होने के बाद सुधरती है पुरुषों की सेहत

पेरिस :  सेवानिवृत्ति को कुछ लोग जीवन में आए ठहराव के तौर पर देखते हैं, मगर एक शोध में रिटायरमेंट को पुरुषों की सेहत के लिए अच्छा बताया गया है। अध्ययन में यह भी कहा गया है कि इससे महिलाओं की सेहत पर कोई खास असर नहीं पड़ता है, क्योंकि वे यूं भी सेहतमंद तरीके से जीती हैं।

पेरिस-सोर्बोन यूनिवर्सिटी के अर्थशास्त्रियों का कहना है कि रिटायरमेंट के बाद महिलाओं की सेहत खास प्रभावित नहीं होती है। प्रोफेसर क्लॉडिया सेनिक ने कहा कि बहुत लोगों को लगता है कि रिटायरमेंट के बाद उनकी सेहत में गिरावट आ जाएगी।

आईजेडए इंस्टीट्यूट ऑफ लेबर इकोनॉमिक्स द्वारा प्रकाशित इस शोध में कहा गया है कि रिटायरमेंट के बाद संज्ञानात्म शक्ति में गिरावट आने लगती है। इसके अलावा किसी भी शख्स की भागदौड़ कम होने से उसे गंभीर बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। प्रोफेसर सेनिक ने कहा कि जो रिटायरमेंट के बाद भी काम करते रहे, उनकी सेहत अपने हमउम्र लोगों से बेहतर थी।

इस अध्ययन के लिए 50 से 75 साल के महिलाओं और पुरुषों के आंकड़ों का 14 साल तक अध्ययन किया। हर वर्ष इन लोगों ने आठ पैमानों पर अपनी सेहत की जानकारी अध्ययनकर्ता टीम के साथ साझा की। शोधकर्ताओं का कहना था कि महिलाएं अपनी सेहत के संदर्भ में सही फैसले लेने में पुरुषों के मुकाबले अधिक समर्थ थीं।
 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four × 3 =