88 वस्तुओं पर जीएसटी घटा,सेनेटरी नैपकिन जीएसटी से बाहर

नयी दिल्ली : केंद्र सरकार ने जनता को बड़ी राहत देते हुए सेनेटरी नैपकिन सहित करीब 88 वस्तुओं पर जीएसटी की दरें घटा दी हैं। दिल्ली के विज्ञान भवन में शनिवार को हुई जीएसटी परिषद की बैठक के दौरान कर की दरों में संशोधन का फैसला लिया गया। वित्त मंत्री पीयूष गोयल की अगुवाई में बैठक के दौरान जीएसटी परिषद का पूरा जोर महिलाओं और घरेलू इस्तेमाल वाली चीजों को सस्ता करने पर रहा। पहले 30-40 सामानों पर ही जीएसटी की दरों को कम करने पर विचार हो रहा था, लेकिन बैठक के दौरान अचानक 80 से भी अधिक वस्तुओं पर कर की दरें घटा दी गईं। बैठक के बाद जब वित्त मंत्री से पूछा गया कि इस कदम से सरकार को आमदनी में कितना घाटा होगा तो उन्होंने साफ कहा कि सरकार को उम्मीद है कि दरें घटने से जो बिक्री बढ़ेगी, उससे होने वाले घाटे की भरपाई की जा सकेगी। इसके बाद भी अगर घाटा होता है तो वो बेहद मामूली या न के बराबर होगा।
पहले भी घटाई दरें – जीएसटी परिषद ने इससे पहले भी दो बार कर की दरों में बड़ा बदलाव किया था। परिषद ने नवंबर 2017 को हुई बैठक में 213 सामानों पर जीएसटी स्लैब में संशोधन का फैसला किया था, जबकि जनवरी 2018 में 54 सेवाओं और 29 वस्तुओं पर टैक्स घटाते हुए उसे सस्ता किया था। सरकार ने वॉशिंग मशीन, फ्रिज, एसी, वॉटर कूलर सहित कई इलेक्ट्रॉनिक और घरेलू इस्तेमाल में आने वाली वस्तुओं पर जीएसटी की दरें घटा दी हैं। इसमें एक हजार रुपये तक के जूते-चप्पल, सेंट-परफ्यूम, लीथियम बैटरी, पेंट आदि वस्तुएं भी शामिल हैं।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 × 4 =