कुछ भी करो कर्तव्य पथ से किंतु भागूंगा नहीं, वरदान मांगूंगा नहीं

शिवमंगल सिंह सुमन स्मरण -यह आलेख गत 5 अगस्त को लिखा गया था। हमारा प्रयास रहता है कि हमारे हर

Spread the love
Read more

हिन्दी-बांग्ला की काव्य धारा में झलके कबीर

कोलकाता : भारतीय भाषा परिषद के तत्वावधान में कबीर जयंती के मौके पर आयोजित काव्य लहरी – 2 की छठी

Spread the love
Read more

नीलांबर व नवल प्रयास ने आयोजित की काव्य संध्या

कोलकाता : नवल प्रयास ,शिमला एवं नीलांबर कोलकाता के संयुक्त तत्वावधान में भारतीय भाषा परिषद में एक काव्य संध्या आयोजित

Spread the love
Read more

नीलांबर द्वारा कविता पर संवाद का आयोजन

कोलकाता : एक साँझ कविता की -4 में नीलांबर ने कुछ नये प्रयोग किए हैं ।इसी कड़ी में अलग से

Spread the love
Read more

कविता को और जीवंत बना गयी कविता की एक साँझ -4

 कोलकाता :  10 जून की शाम कोलकाता की साहित्यिक संस्था नीलांबर के द्वारा कला कुंज सभागार में ‘एक साँझ कविता

Spread the love
Read more

मुक्तांगन-कविता कोश काव्य पाठ श्रृंखला का तीसरा अध्याय

नयी दिल्ली : मुक्तांगन-कविता कोश काव्य पाठ श्रृंखला का तीसरा अध्याय जो कवि सुमित्रा नंदन पंत को समर्पित था कई

Spread the love
Read more