आजादी की लड़ाई में औरतों ने भी खूब दीं कुर्बानियाँ

आजादी के आंदोलन में हिंदुस्तान की महिलाओं का अविस्मरणीय योगदान रहा है। तमाम वीर स्त्रियों ने पुरुषों के कंधे से

Spread the love
Read more

माई लार्ड 

माई लार्ड! लड़कपन में इस बूढ़े भंगड़ को बुलबुल का बड़ा चाव था। गांव में कितने ही शौकीन बुलबुलबाज थे।

Spread the love
Read more

आजादी पर प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू ने यह कहा था

15 अगस्त 1947 की आधी रात को जब दुनिया के कई हिस्सों में लोग नींद में डूबे हूए थे, उस

Spread the love
Read more

72वां स्वतंत्रता दिवस: 15 अगस्त नहीं इस दिन आज़ाद होता भारत

हर हिन्दुस्तानी के दिल में हिन्दुस्तान है और इस हिन्दुस्तान की तारीख में 15 अगस्त बहुत खास दिन है। हिन्दुस्तान

Spread the love
Read more

कुछ भी करो कर्तव्य पथ से किंतु भागूंगा नहीं, वरदान मांगूंगा नहीं

शिवमंगल सिंह सुमन स्मरण -यह आलेख गत 5 अगस्त को लिखा गया था। हमारा प्रयास रहता है कि हमारे हर

Spread the love
Read more

पत्रकारिता में सर्वमान्य, अंतिम और शाश्वत कुछ नहीं होता

  कोलकाता प्रेस क्लब तथा माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय, भोपाल द्वारा हाल ही में कार्यरत पत्रकारों के

Spread the love
Read more

अब सूचना से आगे बढ़कर विश्लेषणपरक खबरें देनी होंगी

कोलकाता प्रेस क्लब तथा माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय, भोपाल द्वारा हाल ही में कार्यरत पत्रकारों के लिए

Spread the love
Read more

उसने हल्के से हाथ हिला दिया….

वनिता वसन्त कोलकाता शहर के विधान सरणी के ट्राम लाइन से ट्राम गुजर रही थी। मुझे धर्मतल्ला जाना था। 5

Spread the love
Read more