भावना कंठ के बाद एक और बेटी ‘अद्विका झा’ उड़ाएगी फाइटर प्लेन

मधुबनी : देश में बेटियां परचम लहरा रही हैं। अपनी लगन और मेहनत से बिहार का नाम लगातार रौशन हो रहा है। अब एक और बेटी ने अपने बिहार का नाम रौशन किया है। बिहार के मधुबनी जिले के लखनौर प्रखंड स्थित उमरी गांव की बेटी अद्विका झा ने कुछ ऐसा काम किया है कि पढ़कर आपको भी फक्र होगा। अद्विका की लगन और मेहनत रंग लायी है और अब वह एक पायलट बनेगी।
भावना कंठ के बाद अद्विका बिहार की दूसरी महिला है जो फाइटर प्लेन उड़ाएगी। आर्मी और बीएसएफ की तरह इंडियन एयरफोर्स भी अब बेटियों को दुश्मन के विरुद्ध और खतरनाक बनाना चाहता है। ताकि दुश्मन भी भारतीय बेटियों की ताकत को जान ले। इसके लिए एयरफोर्स ने महिला फ्लाइंग अफसरों के हाथ लड़ाकू विमानों की कमान सौंपने का काम शुरू कर दिया है।

शुरुआत तो फ्लाइंग अफसर अवनी चतुर्वेदी से हो चुकी है, लेकिन इसी कड़ी में इंडियन एयरफोर्स में भावना कंठ के बाद अद्विका ने भी इतिहास रच दिया है। अभी फ्लाइंग अफसर भावना अंबाला एयरफोर्स स्टेशन में तैनात है और उसने अंबाला एयरबेस से ही मिग-21 बिसन एयरक्राफ्ट में उड़ान भरी थी। ये जांबाज बेटी इस लड़ाकू विमान में 30 मिनट तक आसमान में रही तो अद्विका डेढ़ साल के प्रशिक्षण के बाद भारतीय वायुसेना के फाइटर जेट और मालवाहक प्लेन को उड़ाते दिखेगी। अद्विका का चयन भारतीय वायुसेना के शॉर्ट सर्विस कमीशंड फॉर वीमेन कोर्स में पायलट के लिए हुआ है।

जुलाई से हैदराबाद स्थित वायुसेना अकादमी में अद्विका का प्रशिक्षण शुरू होगा। प्रशिक्षण के डेढ़ साल बाद वह फाइटर प्लेन उड़ाकर दुश्मनों होश ठिकाने ला देगी। अद्विका डॉ अजय कुमार की बेटी हैं। वह दिल्ली सरकार के शिक्षा निदेशालय में प्रवक्ता पद पर हैं। जबकि उनकी मां एक गृहिणी हैं।

अद्विका ने बीटेक की पढ़ाई पूरी की है। उसने दिल्ली के केंद्रीय विद्यालय से 10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षा पास की। भारतीय वायुसेना में पायलट के लिए चुने जाने के बाद अद्विका काफी खुश है। अब अद्विका को उस दिन का इंतजार है जब देश के दुश्मनों को वह धुल चटाएगी। अद्विका को खुशी है कि उसे वायुसेना के जरिए देश की सेवा करने का मौका मिला है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nine + two =