ये हैं भारत के प्रसिद्ध गणेश मंदिर

गणेश चतुर्थी का त्योहार भारत में बड़ी ही धूमधाम से मनाया जाता है इस बार गणेश उत्सव 13 सितंबर को पड़ रहा है। भारत में कई गणेश मंदिर है लेकिन कुछ मंदिर ऐसे हैं जिनकी काफी मान्यता है और हमेशा यहां भक्तों का तांता लगा रहता है। गणेश चतुर्थी के दिन इन मंदिरों की भव्यता और माहौल अलग ही होता है। अगर आप इस बार गणेशोत्सव को कुछ अलग तरीके से मनाना चाहते हैं तो देश के इन प्रसिद्ध गणेश मंदिरों में जरूर जाएं –
श्री सिद्धिविनायक मंदिर, मुम्बई

तस्वीर -साभार

यह मंदिर न केवल मुंबई बल्कि पूरे भारत में प्रसिद्ध है। यहां गणेश चतुर्थी के दिन त्योहार जैसा माहौल होता है। गणेश चतुर्थी से कुछ दिन पहले ही मंदिर सजने लगता है। महानगर मुंबई में होने के कारण इस मंदिर में बड़े-बड़े सेलिब्रिटी भी आते हैं। इस मंदिर का निर्माण 1801 में लक्ष्मण विथू और देऊभाई पाटिल ने करवाया था।

मोती डूँगरी गणेश मंदिर, जयपुर


यह जयपुर का सबसे प्रसिद्ध गणेश मंदिर है जो शहर में मोती डूंगरी पहाड़ी के ऊपर स्थित है। इसका निर्माण 1761 में किया गया था। जबकि इसमें स्थित मूर्ति करीब 500 साल पुरानी बताई जाती है। इस मंदिर के प्रागण में शिवलिंग भी है जो केवल महाशिवरात्रि के दिन ही श्रद्धालुओं के लिए खुलता है। इस मंदिर का निर्माण नागरा शैली में किया गया है।
कनिपकम विनायक मंदिर, चित्तूर


यह एक प्राचीन मंदिर है जिसका निर्माण 11वीं सदी में चोल राजा कुलोथुंगा चोला ने करवाया था। यहां रखी भगवान गणेश की मूर्ति सफेद, पीली और लाल रंग की है। इस मंदिर का ऐतिहासिक महत्व है। ऐसा माना जाता है कि मंदिर के पवित्र जल में स्नान करने से सभी पाप और परेशानियों से छुटकारा मिल जाता है।
दगडूशेठ हलवाई गणपति मंदिर, पुणे


इस मंदिर में भगवान गणेश की 7.5 फीट ऊंची और 4 फीट चौड़ी मूर्ति लगी है जिसपर करीब 8 किलो सोना लगा है। यह मंदिर का निर्माण 1800 वीं सदी में दगडूशेठ नाम के हलवाई ने करवाया था। 1893 में इसका निर्माण खत्म हुआ था। यहां गणेश चतुर्थी काफी धूमधाम से मनाई जाती है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eleven − four =