हिन्दी में हस्ताक्षर करने की प्रतिज्ञा लें : प्रो० सुनील कुमार ‘सुमन’ 

कोलकाता :  महाराजा श्रीशचंद्र  कॉलेज में हिन्दी दिवस समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए प्रिंसिपल श्यामल भटाचार्य ने कहा कि हिन्दी राष्ट्र भाषा है जो भारत के विभिन्न राज्यों को संपर्क भाषा के रूप में जोड़ने का काम करती है। मुख्य अतिथि महात्मा गाँधी अंतराष्ट्रीय विश्वविद्यालय के प्रोफेसर डॉक्टर सुनील कुमार सुमन कहा कि  संविधान निर्माण के समय सबसे ज्यादा बहस राजभाषा के रूप में हिन्दी को लेकर हुई हैं। उन्होंने कहा कि हिन्दी का ज्यादा विकास हिंदीतर भाषियों के द्वारा हुआ है। उन्होंने यह भी कहा कि हिन्दी में रोजगार के विकल्प काफी ज्यादा  हैं। हिन्दी विभागाध्यक्ष डॉ कार्तिक चौधरी ने कहा कि हमारे देश में राष्ट्र-ध्वज, राष्ट्र-गान का जो महत्व है वही महत्व राजभाषा हिन्दी भाषा का है। सिटी कॉलेज के हिन्दी विभाग के विभागाध्यक्ष प्रो संदीप प्रसाद ने अपने वक्तवय में हिन्दी में अन्य भाषाओं से आए हुए शब्दों के प्रयोग में सावधानी बरतने तथा हिन्दी से अन्य भाषाओं से तुलना न कर उसे बढ़ावा देने की बात की। कलकत्ता गर्ल्स कॉलेज  के प्रो  अम्बर चौधरी ने कहा कि हिन्दी सम्मान की भाषा है। हिन्दी दिवस के इस कार्यक्रम में विद्यार्थियों ने स्वरचित नाटक ‘हिन्दी बोल रही है’ का मंचन किया। कार्यक्रम में महाविद्यालय के विभिन्न विभागों के अध्यापकों को सम्मानित एवं विभिन्न प्रतियोगिताओं में सफल विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया गया। पूरे कार्यक्रम के आयोजन में विक्रम साव, सुशील सिंह, राहुल चौधरी, उत्तम गुप्ता, श्रुति राय, मेहरून नाज, दीपक सिंह, पूजा सिंह आदि ने प्रमुख भूमिका निभाई।
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four × 4 =